जाने मॉडुलेशन क्या है हिंदी में – Modulation In Hindi

Rate this post

Modulation In Hindi

Modulation In Hindi and types of modulation in hindi , amplitude, frequency, phase modulation in hindi , computer network.

Modulation In Hindi
Modulation In Hindi

types of modulation in hindi ,modulation and demodulation in hindi  ,amplitude modulation in hindi ,frequency modulation in hindi ,modulation theory in hindi , pulse modulation in hindi , phase modulation in hindi


Modulation In Hindi :- हेल्लो Engineers कैसे हो , उम्मीद है आप ठीक होगे और पढाई तो चंगा होगा आज जो शेयर करने वाले वो Computer Networking के Modulation  के बारे में हैं |

यदि आप जानना चाहते हैं की Modulation  क्या हैं  तो आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ सकते हैं , और अगर समझ आ जाये तो अपने दोस्तों से शेयर कर सकते हैं |


Modulation And Types Of Modulation Hindi

  • कंप्यूटर द्वारा generate संकेत (Signals) डिजिटल संकेत होते हैं , इन संकेतों (signals ) की आवृत्ति कम होती है | अतः यह संकेत संचार माध्यम पर अधिक दूर तक बनने में सक्षम नहीं होते | इन सूचना संकेतों को अधिक दूर तक पहुंचाने के लिए उच्च आवृत्ति तरंगों का प्रयोग किया जाता है | वाहक तरंग (carrier Frequency )कहा जाता है |
  • संचार माध्यम (communication medium ) पर भेजने से पहले डिजिटल सूचना संकेतों (Digital information signals )को वाहक संकेत (carrier Frequency) पर  (Superimpose ) किया जाता है , मोडुलेशन (Modulation ) कहते हैं |
  • Modulation में carrier Frequency के एनालॉग गुणों को डिजिटल संकेतों के आधार पर बदला जाता है | प्राप्तारकर्ता (Receiver) द्वारा modulated  signals  को पुनः सूचना संकेत (Communication Signals ) में बदला जाता है, जिसे  डीमाड्यूलेशन (Demodulation )  कहा जाता है एनालॉग संकेतों (Analog Signals ) में तीन गुण होते हैं, आयाम (Amplitude) ,आवृत्ति(Frequency ) तथा कला(Phase) इन्हीं के आधार पर modulation  की तीन विधियां है |

Types Of Modulation In Hindi

  1. Amplitude Modulation in hindi
  2. Frequency  Modulation in hindi
  3. Phase  Modulation in hindi

Amplitude Modulation In Hindi 

इसमें बायनरी संकेतों (0 और 1  ) के लिए दो आयाम निर्धारित किए जाते हैं | इसमें Analog संकेतों के  अनुसार बदला जाता है जबकि आवृत्ति और फेस नियत (fixed or  Constant ) रहते हैं |

Frequency  Modulation In Hindi

 Analog संकेतों की आवृत्ति को डिजिटल संकेतों (0 और 1 )  के अनुसार बदला जाता है जबकि आयाम और फेस नियत रहते हैं |

Phase  Modulation In Hindi

 इसमें एनालॉग संकेतों के कला (Phase) को डिजिटल संकेतों के अनुसार बदला जाता है जबकि आयाम (Amplitude ) और फेस (Phase) नियत (Constant ) रहता है कंप्यूटर नेटवर्क में डाटा प्रेषण (Data Transmission ) के लिए मुख्यतः कला माड्यूलेशन (Phase  Modulation) का प्रयोग किया जाता है |


निवेदन:- अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ share करें. तथा इस   से सम्बन्धित सवाल आप comment करके पूछ सकते हैं | धन्यवाद..

2 thoughts on “जाने मॉडुलेशन क्या है हिंदी में – Modulation In Hindi”

Leave a Comment