पढ़े लिनक्स शैल हिंदी में – Linux Shell In Hindi

Linux Shell In Hindi
Linux Shell In Hindi

 

Linux Shell In Hindi


Linux Shell In Hindi –  हेल्लो Engineers कैसे हो, उम्मीद है आप ठीक होगे और पढाई तो चंगा होगा आज जो शेयर करने वाले वो Linux  Shell  के बारे में हैं

तो यदि आप जानना चाहते हैं की Linux Shell In Hindi के बारे में तो आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ सकते हैं, और अगर समझ आ जाये तो अपने दोस्तों से शेयर कर सकते हैं

Linux Shell In Hindi
Image Source

Linux Shell In Hindi

Shell एक Command Interpreter होता है जो कि user तथा operating system के मध्य interactive तथा non-interactive interface उपलब्ध कराता है।
Shell को terminal द्वारा access किया जाता है। Terminal का प्रयोग shell को open करने और use करने के लिए किया जाता है।
Linux operating system में आपको कई shells available होते है। कुछ popular Linux shells के बारे निचे बताया जा रहा है।
Unix की सबसे प्रथम shell Bourne shell थी जो Stephen R. Bourne के द्वारा 70 के दशक में Bell Labs में बनायीं गयी थी।

Types Of Shell In Linux Hindi

Linux OS कार्य करने के लिए हमे Environment provide कराता हैं, जिन्हे हम shell कहते हैं

Linux हमे 3 प्रमुख shell provide कराता हैं जिन पर अलग- अलग सुविधाएं रहती हैं, shell में सिर्फ command mode में काम किया जाता हैं

तीन प्रमुख Shell निम्न हैं-

  1. Bourne Shell
  2. C-Shell
  3. Korn Shell

1. Bourne Shell In Linux In Hindi

यह shell Mr. Steaf bourne ने develop किया था जो Bourne Shell के नाम से Famous हुआ,

यह shell C-Shell और Korn Shell की अपेक्षा कम सुविधाएं देता हैं, जैसे History की

Facilities और array की Facilities Bourne Shell में  नहीं मिलती हैं

अर्थात हम इस shell में कमांड तो Run कर सकते हैं लेकिन Run किये
गए Command की History नहीं देख सकते हैं |

यह Linux Operating System का Original System Shell है | यह Linux में root user के लिए default shell है |
Bourne shell में regular user के लिए डॉलर sign ($) prompt होता है | उसके आगे हम command लिखकर execute कराते है | और root यूजर के लिए default sign (#) होता है |


2. C-Shell In Linux In Hindi

C shell में Bourne सेल से अधिक feature होता है इस shell के माध्यम से हम जो command run करेंगे उसकी History देख सकते हैं या history को control कर सकते हैं और साथ ही उसकी  aliasing और जॉब को control कर सकते है |

C shell का प्रयोग मुख्य रूप से Unix ऑपरेटिंग सिस्टम के BSD Version में किया जाता है | इस शेल का by default Sign (%) होता है |

और root यूजर के लिए default sign (#) होता है |

c shell को bourne shell के बाद Develop किया गया है | c shell में निम्न प्रकार के function perform किये जा सकते है |

  1. Aliasing:- किसी command के name के जगह नए name का प्रयोग करना Aliasing कहलाता हैं अर्थात हम  Command-Line को edit कर सकते हैं 
  2. History:- Execute किये गए कमांड की  History देख सकते है अर्थात इसके द्वारा हम पिछली चलाई गयी command की list
    प्राप्त कर सकते हैं, और हम कमान्ड को बिना type किये फिर से Run करा सकते हैं क्युकी हम उसकी History को access कर सकते हैं

 3. Korn Shell In Linux In Hindi 

इस shell को  Mr. David Korn ने develop किया था, Mr. Korn ने इसे Bell Labs में 1980 में develop किया था,

यह shell सबसे popular shell हैं.इस  को Bourne shell का Superset कहा जाता है | क्योंकि इस shell में Bourne shell से अधिक feature होता है |

इस shell में Normal User के लिए ($) sign और root यूजर के लिए (#) sign prompt होता है |

Korn shell में निम्न प्रकार के function perform किये जा सकते है |

  1. Command Line को edit किया जा सकता है |
  2. Command के लिए help प्रोवाइड करता है |
  3. Execute किये गए कमांड की  History को स्टोर करता है |

Bash Shell In Linux In Hindi

यह Linux Operating System का Default Shell होता है जिसका default sign ($) होता है |

इस Shell में root यूजर के लिए (#) sign का उपयोग होता है | Bash shell में निम्न प्रकार के function perform किये जा सकते है |

  1. Command Line को edit किया जा सकता है |
  2. Command के लिए help प्रोवाइड करता है |
  3. Execute किये गए कमांड की  History को स्टोर करता है |

TCSH Shell In Linux In Hindi

यह शेल C shell का Advanced Version है | जिसका default sign (%) रहता है |
shell में निम्न प्रकार के function perform किये जा सकते है |

  1. Command Line को edit किया जा सकता है |
  2. Command के लिए help प्रोवाइड करता है |
  3. Execute किये गए कमांड की  History को स्टोर करता है |

Conclusion Of Linux Shell In Hindi

दोस्तों इस पोस्ट को पूरा पढने के बाद आप तो ये समझ गये होंगे की Linux Shell In Hindi और आपको जरुर पसंद आई होगी, मैं हमेशा यही कोशिस करता हु की आपको सरल भासा में समझा सकू, शायद आप इसे समझ गये होंगे इस पोस्ट में मैंने सभी Topics को Cover किया हूँ ताकि आपको किसी और पोस्ट को पढने की जरूरत ना हो, यदि इस पोस्ट से आपकी हेल्प हुई होगी तो अपने दोस्तों से शेयर कर सकते हैं

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*