Wireless Communication In hindi

Wireless Communication In hindi ||जाने क्या है Wireless Communication


Wireless Communication In hindi :-  हेल्लो Engineers कैसे हो , उम्मीद है आप ठीक होगे और पढाई तो चंगा होगा आज जो शेयर करने वाले वो Computer Network के Wireless Communication In hindi के बारे में हैं

तो यदि आप जानना चाहते हैं की Wireless Communication In hindi  के बारे में तो आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ सकते हैं , और अगर समझ आ जाये तो अपने दोस्तों से शेयर कर सकते हैं |


 Wireless Communication In Hindi (बेतार तकनीक  )

Cable  के खर्चीला होने तथा रख – रखाव की समस्या के कारण विभिन्न कम्प्यूटर को नेटवर्क से
जोड़ने के लिए बेतार तकनीकी का प्रयोग किया जा रहा है । इसमें रेडियो तरंगों और अवरक्त
किरणों ( Infrared rays ) का प्रयोग कर कम दूरी के लिए नेटवर्क स्थापित किया जाता है ।

Image result for Wireless Communication


 WIMAX – World wide Inter operability for Microwave Access In Hindi ( वाई – मैक्स )

यह लंबी दूरी के लिए बेतार की सहायता से डाटा का संचरण संभव बनाता है ।
इसकी विशेषता संचार माध्यम का विशाल बैंड ( ब्राडबैंड ) है । WiMax वायरलेस
तकनीक द्वारा विभिन्न शहरों तथा राष्ट्रों के बीच इंटरनेट संपर्क स्थापित करता है
तथा वायरलेस वाइड एरिया नेटवर्क ( Wire less WAN ) का निर्माण करता है ।
इसमें डाटा स्थानान्तरण की गति 1  Gbps तक हो सकती है । वाई – मैक्स 3 . 3 से 3 . 4 GHz
के बीच कार्य करता है । यह एक दूरसंचार प्रोटोकाल है जिसका उपयोग ब्राडबैंड वायरलेस  एक्सेस द्वारा मोवाइल इंटरनेट सुविधा प्रदान करने में किया जाता है ।


 WLL – Wireless Local Loop In Hindi ( वायरलेस लोकल लूप )

यह स्थानीय बेतार तकनीक है जिसमें बड़ा बैंडविड्य तथा उच्चगति के डाटा संचरण के साथ टेलीफोन की सुविधा भी प्रदान की जाती है । यह नेटवर्क के लिए एक लोकप्रिय साधन होता जा रहा है ।


Bluetooth In Hindi (ब्लूटूथ  )

यह एक वायरलेस तकनीक मानक ( Wireless Technology Standard ) है , जिसके द्वारा
छोटे  वेवलेंथ की रेडियो तरंगों का प्रयोग कर कम दूरी ( 100 मीटर तक ) के लिए डाटा का
आदान – प्रदान संभव बनाया जा सकता है । ब्लूटूय तकनीक में 2 . 4 GHz से 2 . 8 GHz
के बीच के रेडियो तरंगों का प्रयोग किया जाता है । इसकी सहायता से कम्प्यूटर के विभिन्न
उपकरणों , जैसे – माठस , की – बोर्ड , प्रिंटर , हेडसेट , मॉडेम आदि को विना तार के आपस
में जोड़ा जाता है तथा कम दूरी पर स्थित कम्प्यूटरों को आपस में जोड़कर
Wireless Personal Area Network भी बनाया जा सकता है ।
इस तकनीक द्वारा मोबाइल फोन की सहायता से कम्प्यूटर को इंटरनेट से जोड़कर
उपयोग किया जा सकता है । ब्लट्य डिवाइस को कम्प्यूटर के यूएसबी पोर्ट ( USB Port ) से जोड़ा जाता है । ब्लूट्य तकनीक को RS – 232 डाटा केवल के विकल्प के रूप में प्रयोग किया जाता है ।


  WI – FI In Hindi ( वाई – फाई )

यह एक वायरलेस तकनीक मानक है जिसका उपयोग वायरलेस लोकल एरिया नेटवर्क ( Wire less LAN ) तैयार करने में किया जाता है । इसके द्वारा कम्प्यूटर , लैपटॉप , मोबाइल फोन तथा अन्य उपकरणों को बेतार तकनीक द्वारा 100 मीटर की दूरी तक आपस में तथा इंटरनेट से जोड़ा जाता है ।

वाई – फाई एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन वाई – फाई एलायंस ( Wi – Fi Alliance ) का ट्रेडमार्क है ।

 


Wireless Access Point In Hindi ( वायरलेस एक्सेस प्वाइंट )

यह एक डिवाइस है जो विभिन्न उपकरणों को वाई – फाई या ब्लूटूथ  मानकों का प्रयोग कर वायरलेस नेटवर्क से जोड़ता है । इसके लिए रेडियो ट्रांसमीटर तथा रिसीवर का प्रयोग किया जाता है । परंतु वायरलेस एक्सेस प्वाइंट का दूसरा छोर राउटर के सहारे नेटवर्क बैकबोन से जुड़ा हो सकता है । वायरलेस एक्सेस प्वाइंट को हॉटस्पॉट ( HotSpot ) भी कहा जाता है । हॉटस्पॉट वह स्थान है जहां से मायरलेस नेटवर्क द्वारा इंटरनेट सेवा प्रदान की जाती है ।

 


क्या आप जानते हैं ?  वर्तमान पीढ़ी के मोबाइल फोन डिजिटल तकनीक तथा ब्राडबैंड (Broad Band ) का प्रयोग करते हैं जिसके द्वारा विभिन्न कम्प्यूटरों आपस में जोडकर आवाज के साथ – साथ डाटा , मल्टीमीडिया , ई – मेल आदि का संचरण किया जा सकता है । इसे तीसरी पीढ़ी की तकनीक ( 3rd Generation Technology ) या 3जी तकनीक (3 G Technology)  कहते हैं ।


 Wireless Application Protocol In Hindi (वायरलेस एप्लिकेशन प्रोटोकाल  )

यह एक अंतर्राष्ट्रीय मानक है जिसका उपयोग मोबाइल फोन के द्वारा इंटरनेट से जुड़ने तथा इंटरनेट पर उपलब्ध  सेवाओं के लिए किया जाता है । वायरलेस अप्लिकेशन प्रोटोकॉल सॉफ्टवेयर का प्रयोग GSM ( Global System for Mobile Communication ) तथा CDMA ( Code Division Multiple Access )

मोबाइल फोन की इन दोनों तकनीकों में किया जाता है । इस प्रोटोकाल में मोबाइल फोन पर इंटरनेट डाटा प्राप्त करने के लिए   वायरलेस मार्कअप लैग्वेज ( Wireless Markup Language ) का प्रयोग किया जाता है ।

 


Conclusion Of Wireless Communication In hindi

दोस्तों इस पोस्ट को पूरा पढने के बाद आप तो ये समझ गये होंगे की Wireless Communication In hindi और आपको जरुर पसंद आई होगी , मैं हमेशा यही कोशिस करता हु की आपको सरल भासा में समझा सकू , शायद आप इसे समझ गये होंगे इस पोस्ट में मैंने सभी Topics को Cover किया हूँ ताकि आपको किसी और पोस्ट को पढने की जरूरत ना हो , यदि इस पोस्ट से आपकी हेल्प हुई होगी तो अपने दोस्तों से शेयर कर सकते हैं

इन्हें भी पढ़े :-

 

Leave a Comment