Difference Between Class And Structure In Hindi – हिंदी में

Difference Between Class And Structure In Hindi


हेल्लो Engineers कैसे हो , उम्मीद है आप ठीक होगे और पढाई तो चंगा होगा आज जो शेयर करने वाले वो OOPS के बारे में हैं

तो यदि आप जानना चाहते हैं की Difference Between Class And Structure In Hindi   के बारे में तो आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ सकते हैं , और अगर समझ आ जाये तो अपने दोस्तों से शेयर कर सकते हैं

  1. जाने OOPS की पूरी जानकारी हिंदी में
  2. जाने Class और Object हिंदी में [ C++ ]

Difference Between Class And Structure In Hindi

Class और Structure में अंतर निम्नलिखित है :-

S.NStructureClass
1स्ट्रक्चर में एक या एक से अधिक डेटा आइटम्स होते हैं जिन्हें मेम्बर कहा जाता है । यह एक इकाई के रूप में संगठित रहते हैं ।क्लास . स्ट्रक्चर डेटा टाइप के समान होती यह डेटा एलीमेंट एवं उन फंक्शन से है मिलकर बनती है . जिन्हें डेटा एलीमेंट पर ऑपरेट किया जाता है ।
2एक Structure में सभी elements By Default पब्लिक होते हैं ।डेटा और फक्शन को क्लास में एक डिफॉल्ट  सेक्शन के रूप में बाँटा जा सकता है , जैसे – प्राइवेट , पब्लिक और प्रोटेक्टेड ।
3Structure में declare किये गये function का इसके मेम्बर्स के साथ कोई specific संबंध हो सकता है और नहीं भीक्लास में स्पष्ट किये गये फंक्शन का मेम्बरडेटा और मेंम्बर फंक्शन के साथ विशेष  संबंध होता है ।
4स्ट्रक्चर के लिए सामान्य सिन्टेक्स निम्न प्रकार है

Syntax :-

Struct <user _ defined name >

{
data type member 1;
data_type member 2;
……………………..
data_type member n;
};

क्लास निर्माण के लिए सिन्टेक्स निम्न प्रकार है-

Syntax:-
Class <user_define name>

{

Private:
data_type members;
implementation operations;
list of friends function;

Public:
data_type members;
implementation operations;

Private:
data_type members;
implementation operations;

};

5स्ट्रक्चर में की – वर्ड typedef की आवश्यकता होती है ।क्लास में की – वर्ड typedef की आवश्यकता नहीं होती है क्योंकि क्लास का नाम ही टाइप का नाम होता है ।

Conclusion Of Difference Between Class And Structure In Hindi

दोस्तों इस पोस्ट को पूरा पढने के बाद आप तो ये समझ गये होंगे की Difference Between Class And Structure In Hindi और आपको जरुर पसंद आई होगी , मैं हमेशा यही कोशिस करता हु की आपको सरल भासा में समझा सकू , शायद आप इसे समझ गये होंगे इस पोस्ट में मैंने सभी Topics को Cover किया हूँ ताकि आपको किसी और पोस्ट को पढने की जरूरत ना हो , यदि इस पोस्ट से आपकी हेल्प हुई होगी तो अपने दोस्तों से शेयर कर सकते हैं

Leave a Comment